मुंबई का टूर बनाया है, तो विश्व धरोहर में शामिल एलिफेंटा की गुफाएं ज़रूर जाएं

0
1

हाइलाइट्स

विश्व धरोहर में शामिल हैं एलिफेंटा की गुफाएं
हिंदू धर्म से जुड़ा है एलिफेंटा की गुफाएं आर्किटेक्चर

Places to visit in Mumbai : गेटवे ऑफ इंडिया से लगभग एक घंटे की दूरी पर एलिफेंटा की गुफाएं हैं. अगर आप इतिहास में रूचि रखते हैं, तो आपको इस खूबसूरत जगह पर ज़रूर जाना चाहिए. पुरानी मूर्तियों में रूचि रखने वाले लोगों के लिए यह मुंबई के आसपास की एक बेस्ट डेस्टिनेशन साबित हो सकती है. अगर कुछ अलग हटकर और आर्किटेक्चर के दर्शन करना चाहते हैं तो यह गुफाएं बेस्ट हैं. 

1534 में पुर्तगालियों ने गुजरात को अपने काबू में कर लिया था. यहां इन लोगों ने इस टापू को अपने जहाजों के लिए जहाजघर बना लिया और इस छोटे टापू को बाकी आइलैंड से अलग बताया. जो लोग कभी ऐलीफैंटा की गुफाओं में नहीं गए हैं, उन्हें इसका नाम सुनकर लगता है कि यहां हाथी से जुड़ी कुछ कलाकृतियां ज़रूर होंगी, लेकिन यहां हाथी की कोई मूर्ति नहीं है.

दरअसल मूर्ति इंग्लैंड शिफ्ट करने के चक्कर में डेमेज हो गई थी. जिसके बाद इसे बाद में मुंबई के एक चिड़ियाघर में शिफ्ट किया गया जहां यह आज भी है. यहां मौजूद आर्किटेक्चर और स्कल्पचर का हिंदू धर्म के साहित्य में काफी खास महत्त्व है. आइए जानते हैं यहां जाने का सही समय और सही तरीका.

ये भी पढ़ें: कश्मीर की हसीन वादियों के दीदार का सुनहरा मौका, जानें IRCTC का आकर्षक प्लान

एलिफेंटा का समय

यहां जाने का समय सुबह 9.30 बजे से लेकर शाम को 5.30 तक है. पहली फैरी गेटवे ऑफ इंडिया से 9 बजे निकलती है और एक घंटे में पहुंच जाती है. यहां से हर आधे घंटे के गैप में आपको साधन मिल जाएंगे. दोपहर के दो बजे आखरी फेरी जाती है. पहली फेरी 12 बजे वापिस आती है और आखरी शाम के 5.30 बजे. एक घंटे का सफर करने के बाद आपको आधा घंटा ट्रेक करके जाना पड़ेगा. इस हिसाब से अपनी ट्रिप प्लान करें, ताकि आपकी आखरी बोट मिस न हो सके.

लोकेशन
एलिफेंटा आइलैंड, घरापुरी, मुंबई हार्बर, महाराष्ट्र  400094

किस दिन बंद रहती है गुफा?
सोमवार को यह गुफा बंद रहती हैं. इस दिन के अलावा आप बाकी किसी भी दिन यहां जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Goa Tourist Place: बारिश के लिए ‘परफेक्ट’ डेस्टिनेशन है गोवा, खूबसूरत बीच और नाइटलाइफ के हो जाएंगे दीवाने

यहां तक कैसे पहुंचे?
गेटवे ऑफ इंडिया से यहां तक पहुंचने के लिए आपको एक फेरी लेनी पड़ेगी. इस फेरी के दोनों साइड का किराया 150 रुपए लगता है. आइलैंड पर पहुंचने के बाद आप या तो चल कर जा सकते हैं या फिर टॉय ट्रेन ले सकते हैं. इसका किराया 10 रुपए प्रति सवारी है.

Tags: Heritage, Lifestyle, Travel

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here