Police Freed Abducted Nursing Student In Kota – Rajasthan: कोटा में अगवा नर्सिंग छात्र को पुलिस ने कराया मुक्त, ग्रामीणों के सहयोग से पकड़े गए पांच बदमाश

0
12

कोटा में किडनैपर्स गिरफ्तार

कोटा में किडनैपर्स गिरफ्तार
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

कोटा जिले के महावीर नगर थाना क्षेत्र से बदमाशों ने एक छात्र का अपहरण कर लिया और उसके परिजनों से फिरौती की मांग की। पुलिस ने कुछ ही घंटों में नर्सिंग छात्र को बदमाशों के चंगुल से सकुशल छुड़ा लिया। दहलोद ग्राम वासियों के योगदान के कारण छात्र की जान बच गई।

कोटा एसपी केशव सिंह शेखावत ने बताया कि गुरुवार रात संतोषी नगर तीन बत्ती चौराहा में किराये से रह रहे नर्सिंग छात्र मनीष मीणा को उसके दोस्त ने फोन कर मेला देखने बुलाया। मेले में दिल्ली नंबर की एक बोलेरो में आए चार-पांच बदमाश जबरन मनीष का अपहरण कर ले गए। सूचना मिलते ही कोटा पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया और साइबर सेल एवं डीएसटी प्रभारियों को विशेष निर्देश दिए।

एसपी शेखावत ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमों का गठन किया गया। जिले में सघन नाकाबंदी कराने के साथ बूंदी, सवाई माधोपुर, टोंक और कोटा ग्रामीण पुलिस को भी अलर्ट किया गया। इन टीमों ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की दिल्ली नंबर की गाड़ी की पहचान कर उसके हर मूवमेंट की जानकारी इकट्ठा की। बदमाश रंगपुर रोड नाकाबंदी तोड़ते हुए केशोरायपाटन टोल नाके से पहले कच्चे रास्ते होते हुए बूंदी में प्रवेश कर गए। उसके बाद टोंक जिले में बरौनी, निवाई की नाकाबंदी तोड़ते हुए झिलाय रोड पर गाड़ी को तेज गति से ले गए। जिसके बाद पुलिस उनके पीछे लग गई।

टोंक जिले के दतवास थाना इलाके में दहलोद गांव के पास बदमाश पुलिस से घिरा देख गाड़ी और अपह्रत छात्र मुकेश को छोड़कर पैदल पैदल खेतों और जंगलों में भागने लगे। जहां ग्राम वासियों के सहयोग से टोंक पुलिस और कोटा पुलिस ने ड्रोन कैमरे की मदद से पांचों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।

इन्हें किया गिरफ्तार
एसपी शेखावत ने बताया कि थाना सपोटरा जिला करौली निवासी आरोपी दिलखुश मीणा पुत्र ठंडी लाल (26), राहुल मीणा पुत्र कालूलाल (19), खुशवंत मीणा पुत्र हेमराज (19) एवं अखिलेश मीणा पुत्र ठण्डी लाल (27) और थाना सूरवाल जिला सवाई माधोपुर निवासी दिलखुश मीणा पुत्र शिवदास (18) को गिरफ्तार किया गया है। इनमें अखिलेश मीणा के खिलाफ जयपुर, दौसा, टोंक, सवाई माधोपुर और कोटा जिले में 14 और खुशवंत, राहुल और दिलखुश मीणा के विरुद्ध भी आपराधिक मुकदमे दर्ज हुए हैं।

विस्तार

कोटा जिले के महावीर नगर थाना क्षेत्र से बदमाशों ने एक छात्र का अपहरण कर लिया और उसके परिजनों से फिरौती की मांग की। पुलिस ने कुछ ही घंटों में नर्सिंग छात्र को बदमाशों के चंगुल से सकुशल छुड़ा लिया। दहलोद ग्राम वासियों के योगदान के कारण छात्र की जान बच गई।


कोटा एसपी केशव सिंह शेखावत ने बताया कि गुरुवार रात संतोषी नगर तीन बत्ती चौराहा में किराये से रह रहे नर्सिंग छात्र मनीष मीणा को उसके दोस्त ने फोन कर मेला देखने बुलाया। मेले में दिल्ली नंबर की एक बोलेरो में आए चार-पांच बदमाश जबरन मनीष का अपहरण कर ले गए। सूचना मिलते ही कोटा पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया और साइबर सेल एवं डीएसटी प्रभारियों को विशेष निर्देश दिए।


एसपी शेखावत ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमों का गठन किया गया। जिले में सघन नाकाबंदी कराने के साथ बूंदी, सवाई माधोपुर, टोंक और कोटा ग्रामीण पुलिस को भी अलर्ट किया गया। इन टीमों ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की दिल्ली नंबर की गाड़ी की पहचान कर उसके हर मूवमेंट की जानकारी इकट्ठा की। बदमाश रंगपुर रोड नाकाबंदी तोड़ते हुए केशोरायपाटन टोल नाके से पहले कच्चे रास्ते होते हुए बूंदी में प्रवेश कर गए। उसके बाद टोंक जिले में बरौनी, निवाई की नाकाबंदी तोड़ते हुए झिलाय रोड पर गाड़ी को तेज गति से ले गए। जिसके बाद पुलिस उनके पीछे लग गई।


टोंक जिले के दतवास थाना इलाके में दहलोद गांव के पास बदमाश पुलिस से घिरा देख गाड़ी और अपह्रत छात्र मुकेश को छोड़कर पैदल पैदल खेतों और जंगलों में भागने लगे। जहां ग्राम वासियों के सहयोग से टोंक पुलिस और कोटा पुलिस ने ड्रोन कैमरे की मदद से पांचों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।


इन्हें किया गिरफ्तार

एसपी शेखावत ने बताया कि थाना सपोटरा जिला करौली निवासी आरोपी दिलखुश मीणा पुत्र ठंडी लाल (26), राहुल मीणा पुत्र कालूलाल (19), खुशवंत मीणा पुत्र हेमराज (19) एवं अखिलेश मीणा पुत्र ठण्डी लाल (27) और थाना सूरवाल जिला सवाई माधोपुर निवासी दिलखुश मीणा पुत्र शिवदास (18) को गिरफ्तार किया गया है। इनमें अखिलेश मीणा के खिलाफ जयपुर, दौसा, टोंक, सवाई माधोपुर और कोटा जिले में 14 और खुशवंत, राहुल और दिलखुश मीणा के विरुद्ध भी आपराधिक मुकदमे दर्ज हुए हैं।

Source link