There Are Factions In Bjp Too Says Cm Ashok Gehlot – Rajasthan: सीएम गहलोत बोले- भाजपा में भी गुट हो चुके हैं तैयार, मेरे पास पूरी रिपोर्ट, कौन क्या कर रहा

0
4
Ashok Gehlot photo
Rajasthan: इस बार जेल जाने का लाइसेंस रिन्यू नहीं हुआ, गहलोत के मंत्री बोले- पार्टी के दम पर चुनाव नहीं लड़ता

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को जयपुर में राजीव गांधी ग्रामीण ओलिंपिक के राज्य स्तरीय खेलों का शुभारंभ किया। इस अवसर पर गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए ग्रामीण ओलिंपिक को राजस्थान के युवाओं के लिए बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि राज्य में खेलों के चलते एक माहौल बना है, जिससे लोगों के अंदर प्यार और सद्भाव बढ़ा है।  

इस पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री गहलोत से अमर उजाला ने सवाल किया कि भारत जोड़ो यात्रा का हिंदी भाषीय प्रदेशों पर क्या प्रभाव है? 
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि अभी तो राहुल गांधी उत्तर भारत आए भी नहीं हैं, लेकिन उनकी लहर बन चुकी है। सोशल मीडिया, मीडिया और लोगों में चर्चा शुरू हो चुकी है कि राहुल गांधी जो बात कर रहे हैं वो सही है। गहलोत बोले कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से भाजपा मोदी और अमति शाह में एक डर है, क्योंकि जिस प्रकार राहुल गांधी का क्रेज बड़ा है अब वो थमने वाला नहीं है। 

गहलोत ने कहा, अब तो आरएसएस में जो दूसरे नंबर पर पदासीन है वह भी मानते हैं कि देश का माहौल ठीक नहीं है। आरएसएस भी कहती है कि देश में धार्मिक सद्भाव बना रहना चाहिए। यह राहुल गांधी की देन है, राहुल गांधी सभी की विचारधारा को साथ लेकर चलना पसंद करते हैं। वह अपनी विचार धारा को किसी पर थोपने की जगह संदेश के माध्यम से उसे समझाने का प्रयास करते हैं कि देश के लिए क्या क्या सही है। देश में राहुल गांधी की बराबरी नहीं की जा सकती है।

सीएम गहलोत ने कहा, राहुल गांधी ने स्पष्ट कर दिया कि मैं और मेरे परिवार का कोई भी सदस्य कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बनेगा। सोनिया गांधी ने खुद प्रधानमंत्री नहीं बनते हुए मनमोहन सिंह को देश का पीएम बनाया था। आज कोई सरपंच का पद नहीं छोड़ता, लेकिन गांधी परिवार की एक सोच और विचार धारा है। जिसके चलते देश में उनका सम्मान है।  

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि देश में आज हिंसा का माहौल है। पता भी नहीं चलता कि कहां हिंसा हुई है। उन्होंने कहा कि देश में कोई भी किसी को अगर कोड़े मारेगा तो कानून व्यवस्था का क्या होगा, प्रधानमंत्री देश में हिंसा रोकने के लिए क्यों आगे नहीं आते हैं। उन्हें क्या डर है? 

सीएम अशोक गहलोत ने कहा, भारत जोड़ो यात्रा से राहुल गांधी के विचार सभी के सामने आए हैं। देश भी अमन, शांति और तरक्की चाहता है, इसलिए आरएसएस अब वही कह रहा है जो राहुल गांधी कह रहे हैं। अमर उजाला के एक और सवाल पर मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि भाजपा कौन है जो यह तय करेगी कि हमारी पार्टी में क्या होगा? वह पहेले अपना घर देखें। मुझे पता है कि भाजपा में भी कई गुट बन चुके हैं। गहलोत ने कहा मेरे पास पूरी रिपोर्ट है कि कौन क्या कर रहा है। भाजपा में भी गुटबाजी शुरू हो चुकी है, लेकिन वहां लोग मोदी और अमित शाह से डरते हैं, इसलिए चुप हैं। जल्द ही सच सभी के सामने आएगा। 

विस्तार

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को जयपुर में राजीव गांधी ग्रामीण ओलिंपिक के राज्य स्तरीय खेलों का शुभारंभ किया। इस अवसर पर गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए ग्रामीण ओलिंपिक को राजस्थान के युवाओं के लिए बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि राज्य में खेलों के चलते एक माहौल बना है, जिससे लोगों के अंदर प्यार और सद्भाव बढ़ा है।  

इस पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री गहलोत से अमर उजाला ने सवाल किया कि भारत जोड़ो यात्रा का हिंदी भाषीय प्रदेशों पर क्या प्रभाव है? 

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि अभी तो राहुल गांधी उत्तर भारत आए भी नहीं हैं, लेकिन उनकी लहर बन चुकी है। सोशल मीडिया, मीडिया और लोगों में चर्चा शुरू हो चुकी है कि राहुल गांधी जो बात कर रहे हैं वो सही है। गहलोत बोले कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से भाजपा मोदी और अमति शाह में एक डर है, क्योंकि जिस प्रकार राहुल गांधी का क्रेज बड़ा है अब वो थमने वाला नहीं है। 

गहलोत ने कहा, अब तो आरएसएस में जो दूसरे नंबर पर पदासीन है वह भी मानते हैं कि देश का माहौल ठीक नहीं है। आरएसएस भी कहती है कि देश में धार्मिक सद्भाव बना रहना चाहिए। यह राहुल गांधी की देन है, राहुल गांधी सभी की विचारधारा को साथ लेकर चलना पसंद करते हैं। वह अपनी विचार धारा को किसी पर थोपने की जगह संदेश के माध्यम से उसे समझाने का प्रयास करते हैं कि देश के लिए क्या क्या सही है। देश में राहुल गांधी की बराबरी नहीं की जा सकती है।

सीएम गहलोत ने कहा, राहुल गांधी ने स्पष्ट कर दिया कि मैं और मेरे परिवार का कोई भी सदस्य कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बनेगा। सोनिया गांधी ने खुद प्रधानमंत्री नहीं बनते हुए मनमोहन सिंह को देश का पीएम बनाया था। आज कोई सरपंच का पद नहीं छोड़ता, लेकिन गांधी परिवार की एक सोच और विचार धारा है। जिसके चलते देश में उनका सम्मान है।  

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि देश में आज हिंसा का माहौल है। पता भी नहीं चलता कि कहां हिंसा हुई है। उन्होंने कहा कि देश में कोई भी किसी को अगर कोड़े मारेगा तो कानून व्यवस्था का क्या होगा, प्रधानमंत्री देश में हिंसा रोकने के लिए क्यों आगे नहीं आते हैं। उन्हें क्या डर है? 

सीएम अशोक गहलोत ने कहा, भारत जोड़ो यात्रा से राहुल गांधी के विचार सभी के सामने आए हैं। देश भी अमन, शांति और तरक्की चाहता है, इसलिए आरएसएस अब वही कह रहा है जो राहुल गांधी कह रहे हैं। अमर उजाला के एक और सवाल पर मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि भाजपा कौन है जो यह तय करेगी कि हमारी पार्टी में क्या होगा? वह पहेले अपना घर देखें। मुझे पता है कि भाजपा में भी कई गुट बन चुके हैं। गहलोत ने कहा मेरे पास पूरी रिपोर्ट है कि कौन क्या कर रहा है। भाजपा में भी गुटबाजी शुरू हो चुकी है, लेकिन वहां लोग मोदी और अमित शाह से डरते हैं, इसलिए चुप हैं। जल्द ही सच सभी के सामने आएगा। 

Source link